Thursday, February 15, 2007

जाने क्यों लोग मोहब्बत किया करते हैं

कुछ दिन पहले मैंने अपने छुट-पुट चिट्ठे पर एक चिट्ठी लिनेक्स बनाम वीस्टा एवं मैकिन्टॉश नाम से पोस्ट की। इसमें बीबीसी के एक लेख की चर्चा है। इसमें इन तीनो ऑपरेटिंग सिस्टम की तुलना है। इस पर एक टिप्पणी,
'पता नहीं क्यों हर आदमी माइक्रोसौफ्ट को कोसने में लगा रहता है। सच कहूँ, मुझे तो Windows [से प्यार] ... है। ...
मैक पर [हिन्दी में काम करने के लिये] ... एक गन्दे से की-बोर्ड ले-आउट के अलावा कुछ भी नहीं है। ...
जो लोग लिनक्स का गुण-गान करते हैं… उनका तो अल्लाह ही मालिक है.... कंसोल में काम करना है तो ठीक है,
KDE/ Gnome तो अभी भी कचरा हालत में हैं।'
अच्छा सवाल है।

मेरा एक मित्र विंडोस़ प्रेमी है। मुझसे अक्सर कहता है कि मैं लिनेक्स छोड़ कर विंडोस़ अपना लूं। कल ही मेरे इसी मित्र ने एक ईमेल भेजी जो शायद अन्तरजाल में घूम रही है। यह हिन्दी में इस प्रकार है,
  • 'बिल गेटस् प्रति सेकेण्ड २५० यू०एस० डालर अर्जित करते हैं जो कि लगभग 2 करोड़ यू०एस० डालर प्रतिदिन और ७३ अरब यू०एस०डालर प्रति वर्ष होता है।
  • यदि उनसे १००० डालर गिर जाता हैं तो उसे उठाने के लिये वे कष्ट नहीं उठायेंगे क्योंकि सेकेण्ड में वे उसे उठायेंगे और इतने समय में १००० डालर अर्जित कर लेंगे।
  • अमेरिका का राष्ट्रीय कर्ज ५.६२ खरब है, यदि बिल गेटस् को यह ऋण स्वयं चुकता करना हो तो वह इसे १० वर्ष से कम समय में कर देगे।
  • वह पृथ्वी पर प्रति व्यक्ति १५ यू०एस० डालर दान करते हैं तब भी उनके पास जेब खर्च के लिए ५० लाख डालर शेष रह जायेगा।
  • माइकल जार्डन अमेरिका में सबसे अधिक धन अर्जित करने वाले खिलाड़ी हैं। उनकी सम्पूर्ण वार्षिक आय ३०० लाख डालर है। यदि वे खान-पान पर खर्च न करें तो उन्हें बिल गेटस् के बराबर धनी होने में २७७ वर्ष तक इन्तजार करना पड़ेगा।
  • यदि बिल गेटस् एक देश होते तो वे पृथ्वी पर सबसे धनी देश होते।
  • यदि आप बिल गेटस् के सभी धन को एक डालर के नोट में बदलें तो आप धरती से चन्द्रमा तक की दूरी से १४ गुनी लम्बी आने जाने वाली सड़क तैयार कर सकते हैं। किन्तु आपको इस सड़क को बिना रूके १४०० वर्षों में बनाना होगा और ७१३ बोइंग ७४७ जहाज सभी धन के आवागमन के लिये प्रयोग करना होगा।
  • यदि हम कल्पना करें कि बिल गेटस् अगले ३५ वर्षों तक जीवित रहते हैं और यदि वे ६.७८ लाख डालर प्रतिदिन खर्च करें केवल तभी स्वर्ग जाने के पहले वे अपनी सारी सम्पत्ति समाप्त कर पायेंगे।'
मुझे यह तो मालुम था कि विंडोस़ दुनिया का सबसे लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम है तथा बिल गेटस् दुनिया के सबसे सफल एवं अमीर व्यक्ति हैं पर यह नहीं मालुम था कि वे इतने अमीर व्यक्ति हैं। मुझे लगता है कि लोग तो जलते हैं बस इसलिये कोसते हैं।

इस ईमेल के समाप्ति पर कुछ और भी स्माईली के साथ लिखा था।
'अंत में भी बताना उचित होगा कि यदि माइक्रोसाफ्ट विन्डोस के प्रयोगकर्ता को कम्प्यूटर के हर बार अवरोध (हैन्ग) होने पर उसे एक डालर का हर्जान दिया जाय तो बिल गेटस् ३ साल में ही दिवालिया हो जायेंगे।'

लोग लिनेक्स क्यों पसन्द करते हैं इस बारे में सुश्री एन्ड्रिया कॉर्डिंगली के विचार मैंने यहां लिखे हैं। मैं तो लिनेक्स पर इसलिये काम करता हूं क्योंकि मुझे इसका दर्शन अच्छा लगता है, यह कुछ भाईचारे की बात लगती है, और इस पर बौद्धिक सम्पदा की झंझट नहीं है। पर,
जाने क्यों लोग मोहब्बत किया करते हैं?
शायद अल्लाह के पास पहुंचने के लिये, या फिर
... होने के लिये करते हैं।

9 comments:

  1. उन्मुक्त बाबू, ये चिटिंग है. पैकिंग ऐसी कि हम तो टाईटल पढ़कर भागते आये कि अब ऐन वैलेंटाईन दिवस के आसपास हमारे उन्मुक्त जी को ई क्या हो गया. और यहाँ देख रहे हैं वो लिनिक्स और विन्डो वाली महफील जमीं हैं. वैसे सही है बुलवाने का तरीका. खैर, हम तो यूँ भी आते आपका नाम देखकर. :)

    ReplyDelete
  2. भाई क्या करें, पहला प्यार तो भूलता नहीं।

    ReplyDelete
  3. शिल्पाशर्मा6:59 am

    आपका लिनक्स प्रेम देखकर लगता है कि हमें भी लिनक्स आजमाना चाहिये

    ReplyDelete
  4. लिनेक्स और विंडोस की जलन और लडाई का तो पता नहीं पर.. बिल गेट्स पर जानकारि अच्छी लगी

    ReplyDelete
  5. वाह भइये,
    वेलेंटाइनी टाइटल के भीतर विंडो-शिंडो और लिनक्स की ऐसी तकनीकी चर्चा. लेख अच्छा लगा .

    ReplyDelete
  6. उन्मुक्त जी,
    यह लेख पढ़कर लगा की आपसे कुछ सलाह ली जाए… मुझे एक NOTEBOOK लेना है…मेरे एक दोस्त अभी अमेरीका में हैं तो मैं यह चाह रहा था कि Apple Mac Pro...मंगवा लूं…अब समस्या यह है कि क्या यह मेरे लिए सही रहेगा क्योंकि मेरा कार्य Film Direction का है…जिसमें Fireware और Graphics की ज्यादा आवश्यकता पड़ती है…पहले सोचा था Viao or Lenovo क्योंकि HP से मुझे पता नहीं क्यों चिढ़ है…अब आप कृप्या बताएँ की कौन सा लिया जाए…
    Mac me or Window Vista क्या फर्क है दोनों की विशेषताएँ और -ve क्या है जबकि हिंदी में ब्लागिंग भी…आपसे पूर्ण जानकारी की अपेक्षा है…या तो मुझे मेल कर दे या जो अच्छा लगे.॥
    divyabh.aryan@gmail.com

    ReplyDelete
  7. उन्मुक्त जी,
    हम समीर जी से बिल्कुल सहमत हैं हम भी इस चक्कर में दौडे चले आये कि उन्मुक्त जी प्यार मोहब्बत की बातें कर रहे हैं तो जरूर मजेदार होंगी लेकिन यहाँ तो आप सास-बहू की तरह विंडोज और लिनिक्स की तू तू मैं मैं बता रहे हैं।

    हमारे लिये क्या खिडकी क्या दरवाजा दोनों ही काम में आने वाली चीज हैं।

    ReplyDelete
  8. संजय बेंगाणी9:34 am

    देखो भाई प्यार-स्यार जी में आए उससे करो मगर शादी उसी से करो जो साथ निभा सके.
    ओपरेटिंग सिस्टम के लिए भी यही बात लागू होती है.

    और बता दें हम टाइटल देख कर नहीं आए थे. हमे पता है मियाँ की दौड़ मस्जिद तक होती है. :)

    ReplyDelete
  9. अंत में भी बताना उचित होगा कि यदि माइक्रोसाफ्ट विन्डोस के प्रयोगकर्ता को कम्प्यूटर के हर बार अवरोध (हैन्ग) होने पर उसे एक डालर का हर्जान दिया जाय तो बिल गेटस् ३ साल में ही दिवालिया हो जायेंगे।......वाह। मजेदार। लेकिन फिर बिल गेट्स अगर सारे नकली-जाली विंडोज को उपयोग करने वालों से दाम सूद समेत वसूल लें तब?

    ReplyDelete

आपके विचारों का स्वागत है।