Saturday, May 24, 2008

गोलमाल है भाई गोलमाल

श्रंखला - अंतरजाल की मायानगरी में की इस कड़ी में विडियो और गानों को वेबसाइट पर अपलोड करने से होने वाले कॉपीराइट उल्लघंन की चर्चा है। इसे आप सुन भी सकते है। सुनने के लिये यहां चटका लगायें। यह ऑडियो फाइल ogg फॉरमैट में है। इस फॉरमैट की फाईलों को आप,
  • Windows पर कम से कम Audacity, MPlayer, VLC media player, एवं Winamp में;
  • Mac-OX पर कम से कम Audacity, Mplayer एवं VLC में; और
  • Linux पर सभी प्रोग्रामो में,
सुन सकते हैं। ऑडियो फाइल पर चटका लगायें। यह आपको इन फाइल के पेज पर ले जायगा। उसके बाद जहां Download और उसके बाद फाइल का नाम अंग्रेजी में लिखा है वहां चटका लगायें। इन्हेंं डाउनलोड कर ऊपर बताये प्रोग्राम में सुने या इन प्रोग्रामों मे से किसी एक को अपने कंप्यूटर में डिफॉल्ट में कर ले।
इसके पहली की कड़ी ''सॅमेंटिक वेब क्या है और विकिपीडिया का महत्व'' को सुनने के लिये यहां चटका लगायें।

बज़ार में हर तरह की सीडी मिलती - कानूनी, गैर कानूनी। यदि आप कानूनी विडियो या संगीत की सीडी खरीदते हैं तो उसे आप सुन तो सकते हैं पर उसे या उसके भाग को किसी वेबसाइट {(जैसे यूट्यूब (youtube) या ईस्निप्स् (esnips)} पर अपलोड कर, उसे सार्वजनिक कर देना, गलत है। यह कॉपीराइट का उल्लघंन है। यदि आप इन सीडी को देखें तो इनमें कुछ इस तरह की नोटिस होती है
'All rights in the recorded work are reserved. Unauthorised public performance, Broadcasting, and copying is prohibited.'
इसमें सारे अधिकार सुरक्षित हैं। बिना अनुमति के, इसे सार्वजनिक तौर से बजाना, प्रकाशित करना, या कॉपी करना मना है।
इस नोटिस के कारण यदि आप इसे वेबसाइट पर अपलोड कर, सार्वजनिक करते हैं तो इसके उल्लघंन के साथ कॉपीराइट का उल्ल्घंन (copyright violation) करते हैं। यदि आप अपलोड की सुविधा देने वाली वेबसाईटों की शर्तों को पढ़ें, तो आप पायेंगे कि वे सब सपष्ट रूप से कहती हैं कि कॉपीराइटेड सामग्री अपलोड करना मना है। इस कारण, वे आपका अकांउट भी बन्द कर सकती हैं और इस तरह की सामग्री को मिटा सकती हैं।

केवल कानूनी सीडी खरीद लेने के कारण, आप उसके गाने या फिल्म के विडियो को सार्वजनिक रूप से अपलोड करने के अधिकारी नहीं हो जाते हैं।


(This photograph is not mine. I have taken it from here and it is courtesy them.
Hi, I am using this photograph for non profit purpose. Please do let me know if you have any objection. In that event, I will remove it.)

इसलिये आप किसी और के गाने या फिल्म के विडियो को अपने नाम से केवल इसलिये न अपलोड करें कि आपके पास उसकी कानूनी सीडी है। यह तभी हो सकता है जब आपने इसकी खास अनुमति ले रखी हो। आप चाहें तो दूसरे के द्वारा अपलोड की गयी विडियो या संगीत की फाईल को अपने चिट्टे पर लगा सकते हैं जैसा कि यूट्यूब या ईस्निप्स् आपको विज़िट बना कर यह करने देते हैं। क्योंकि हो सकता है कि जिसने उसे अपलोड किया है उसके पास इसकी अनुमति हो। यदि नहीं है तो, नोटिस मिलने पर, उसे वेबसाइटों (यूट्यूब या ईस्निप्स्) को हटाना पड़ेगा और जैसे वह हटेगी वह आपकी चिट्ठी से भी हट जायेगी।

'उन्मुक्त जी, यह काम तो सब लोग, यहां तक दूरदर्शन और रेडियो वाले कर रहें हैं। क्या वे सब गलत हैं?'
यदि उन्होनें इसकी अनुमति नहीं ली है तो यह जरूर गलत है। इसलिये मैं अपने पॉडकास्ट पर कोई फिल्म का गाना अपलोड नहीं करता क्योंकि मेरे पास इसकी कोई अनुमति नहीं है। मैं हमेशा दूसरों के द्वारा यूट्यूब पर अपलोड किये गये विडियो लगाता हूं या फिर उसको करता हूं जो वह उसका उचित प्रयोग है जैसा मैंने यहां बताया है। लेकिन यहां पर भी जहां से उद्धरण लिया गया है और लेखक का नाम देता हूं। यह आवश्यक है।

यह सच है कि दूरदर्शन और रेडियो में गाना सार्वजनिक रूप से बजाया जाता है पर वे इस बात का रिकॉर्ड रखते हैं कि कोई गाना कितनी बार बजा है। यह लोग साल के अन्त में, जो गाना जितनी बार बजता है, उतना ही पैसा उसके कॉपीराइट मालिक को अलग से देते हैं।

क्या एक बार में एक ही श्रंखला चलनी चाहिये या एक से ज्यादा चले तब भी ठीक रहता है?



इसी के साथ यह श्रंखला समाप्त हो रही है। जल्द ही मिलूंगा किसी अन्य श्रंखला के साथ। एक सवाल - इस समय मेरे इस चिट्ठे पर तीन श्रंखला चल रही थीं दो अब भी चल रही हैं आपको क्या लगता है कि यह एक बार में एक ही श्रंखला चलनी चाहिये या एक से ज्यादा हो तो भी ठीक रहता है।

अंतरजाल की मायानगरी में
टिम बरनर्स् ली।। इंटरनेट क्या होता है।। वेब क्या होता है।। लिकिंग, क्या यह गलत है।। चित्र जोड़ना - यह ठीक नहीं।। फ्रेमिंग भी ठीक नहीं।। बैंडविड्थ की चोरी - क्या यह गैर कानूनी है।। बैंडविड्थ की चोरी - कब गैरकानूनी है।। डोमेन नाम विवाद क्या होता है।। समान डोमेन नाम विवाद नीति, साइबर और टाइपो स्कवैटिंग।। की वर्ड और मॅटा टैग विवाद।। समकक्ष कंप्यूटर के बीच फाइल शेयरिंग।। शॉ फैनिंग, नैपस्टर सॉफ्टवेयर, और उस पर चला मुकदमा।। कज़ा केस।। ग्रॉकस्टर केस।। ग्रॉकस्टर केस में अमेरिकी सर्वोच्च न्यायालय का फैसला।। वेब २.०।। सॅमेंटिक वेब क्या है और विकिपीडिया का महत्व।। गोलमाल है भाई गोलमाल।।

हिन्दी में पुस्तक समीक्षा पर नवीनतम पॉडकास्ट
Latest book review podcast in Hindi

(सुनने के लिये चिन्ह शीर्षक के बाद लगे चिन्ह ► पर चटका लगायें यह आपको इस फाइल के पेज पर ले जायगा। उसके बाद जहां Download और उसके बाद फाइल का नाम अंग्रेजी में लिखा है वहां चटका लगायें।: Click on the symbol ► after the heading. This will take you to the page where file is. Click where 'Download' and there after name of the file is written.)
यह ऑडियो फइलें ogg फॉरमैट में है। इस फॉरमैट की फाईलों को आप -
  • Windows पर कम से कम Audacity, MPlayer, VLC media player, एवं Winamp में;
  • Mac-OX पर कम से कम Audacity, Mplayer एवं VLC में; और
  • Linux पर सभी प्रोग्रामो में - सुन सकते हैं।
बताये गये चिन्ह पर चटका लगायें या फिर डाउनलोड कर ऊपर बताये प्रोग्राम में सुने या इन प्रोग्रामों मे से किसी एक को अपने कंप्यूटर में डिफॉल्ट में कर ले।

is post per gaane ya video ko upload krne ke karan ho rhe copyright ulanghan kee charcha hai. yah hindee {devanaagaree script (lipi)} me hai. ise aap roman ya kisee aur bhaarateey lipi me padh sakate hain. isake liye daahine taraf, oopar ke widget ko dekhen.

This post is about copy right violations due uploading of songs and videos on websites. It is in Hindi (Devnaagaree script). You can read it in Roman script or any other Indian regional script also – see the right hand widget for converting it in the other script.


सांकेतिक चिन्ह
information , Information Technology, information technology, Intellectual property, Internet, Internet, Podcast, Podcast, software, technology, Technology, technology, technology, Web, आईटी, अन्तर्जाल, इंटरनेट, इंटरनेट, ऑडियो टेक्नॉलोजी, टैक्नोलोजी, तकनीक, तकनीक, तकनीक, पॉड-वॉडकास्ट, पॉडकास्ट, पोडकास्ट , सूचना प्रद्योगिकी, सॉफ्टवेयर, सॉफ्टवेर,

3 comments:

  1. अच्छी जानकारी मिली। धन्यवाद जी।

    ReplyDelete
  2. मेरे विचार में एक से ज़्यादा श्रंखला चले तो ही बेहतर होता है, एक तो विभिन्नता आती है और दूसरे क्या पता किसी को उस एक विषय में रूचि ही न हो फ़िर तो उसे आपके अगले श्रंखला का इंतज़ार ही करना पड़ेगा |

    ReplyDelete
  3. धन्‍यवाद, अच्‍छी जानकारी दिया आपने

    ReplyDelete

आपके विचारों का स्वागत है।