Tuesday, February 19, 2019

हर कुंभ मेला १२ साल बाद नहीं होता

इस चिट्ठी में बताया गया है कि क्यों हर कुंभ (अब महाकुंभ) मेला १२ साल बाद नहीं होता है।
अर्ध-कुंभ (अब कुंभ) इलाहाबाद २०१९ - चित्र सुश्री अमृता चैट्रजी के सौजन्य से

Sunday, February 10, 2019

अमिताभ बच्चन - कुंभ और भ्रम

इस चिट्ठी में चर्चा है कि कुंभ मेले का नाम कुंभ मेला क्यों है; क्या इलाहाबाद मे होने वाले मेले को कुुंभ मेला कहना चाहिय या फिर वृषभ-कुंभ मेला; और अमिताभ बच्चन के द्वारा बताये जा रहे कुंभ के वैज्ञानिक महत्व से क्या भ्रम हो रहा है।

Wednesday, January 23, 2019

मकर संक्रांति पर सूरज उत्तरायण नहींं होता

मकर संक्रांति पर बधाई संदेश - सूर्य उत्तरायण हो गया है। इसी बात की सोशल मीडिया पर भी चर्चा है। यह सही नहीं है? इस चिट्ठी में, इसी  को समझाया गया है।

Tuesday, August 21, 2018

डा. जोसेफ बेल - वास्तविक शॉर्लॉक होम्स

पिछली चिट्ठी में, मार्गलिट फॉक्स द्वारा लिखित पुस्तक 'कॉनन डॉयल फॉर द डिफेंस' की चर्चा थी। 
इस चिट्ठी में चर्चा है कि शर्लॉक होम्स का किरदार गढ़ने में, आर्थर कैनन डॉयल को कहां से प्रेणना मिली

Thursday, July 26, 2018

कॉनन डॉयल फॉर द डिफेंस

शर्लॉक होम्स को किसने नहीं पढ़ा - बचपन आर्थर कॉनन डॉयल द्वारा उस पर लिखी गई कहानियों को पढ़ने में बीता। लेकिन इस किरदार के प्रेरणासोत्र, डॉक्टर जोसेफ बेल थे।
बज़ार में मार्गलिट फॉक्स द्वारा लिखित एक नयी पुस्तक 'कॉनन डॉयल फॉर द डिफेंस' आयी है। यह एक ऐसे मामले के बारे में आयी है जहां कॉनन डॉयल शामिल थे और मैंने सोचा कि इस पुस्तक और शर्लॉक होम्स किरदार के प्रेरणासोत्र, डॉक्टर जोसेफ बेल के बारे में लिखना अच्छा होगा। 
इस चिट्ठी में पहले पुुस्तक के बारे में।

Sunday, July 01, 2018

द साइंटिस्ट ऐज़ रिबेल


यह चिट्ठी फ्रीमन डाइसन के द्वारा लिखी पुस्तक 'द साइंटिस्ट ऐज़ रिबेल' की समीक्षा है। 

Wednesday, November 22, 2017

इस किताब का क्या नाम है


इस चिट्ठी में वेनिस यात्रा की चिट्ठी में पूछी गयी पहेली के हल के साथ Raymond Smullyan की लिखी पुस्तक What is the name of the book पुस्तक की चर्चा है, जहां पर मैंने इस पहेली को पढ़ा था। 
इसके साथ मर्चेंट ऑफ वेनिस से, अंग्रजी भाषा के दो लोकप्रिय जुमलों की चर्चा है।

युरोप यात्रा

Monday, September 25, 2017

पद्मावती फिल्म का नाम बदलिये

'रानी पद्मिनी फिल्म - बन्द करो' श्रंखला की पिछली कड़ी में चर्चा थी कि यदि रानी पद्मिनी काल्पनिक भी हो तब भी फिल्म में रानी पद्मिनी और अलाउद्दीन के बीच रोमांस नहीं दिखाया जा सकता है क्योंकि किसी भी कथा में वे रुमानी तौर पर नहीं जुड़ी थी। इस कड़ी में चर्चा है कि अलाउद्दीन के सपनों की दौड़ पर लगाम नहीं लगया जा सकता और इस फिल्म पर विवाद करना गलत है



Wednesday, August 09, 2017

यह केवल फिल्मों में होता है - वास्तविक जीवन में नहीं

इस चिट्ठी में वेनिस यात्रा का वर्णन है।

युरोप यात्रा
 सच तो शेर, झूट तो पेशेवर लड़ाका - क्या बोले (रोम यात्रा)।। फांसी चढ़ने के लिये आया हूं (पिछली पहेली का हल)।। यह केवल फिल्मों में होता है - वास्तविक जीवन में नहीं (वेनिस यात्रा)।।

वेनिस का एक दृश्य

Saturday, July 15, 2017

फांसी चढ़ने के लिये आया हूं

इस चिट्ठी में, स्पैनिश लेखक मिगिल दे सर्वान्टीस की उत्कृष्ट कृति 'डॉन किहौटे' के साथ, पिछली चिट्ठी में पूछी गयी 'राजा, गुलाम और कॉलोसिअम' पहेली का हल है।

मैड्रिड में डॉन किहौटे और सैंचो पान्ज़ा की मूर्ति चित्र विकिपीडिया से